सौ-सौ सिंहों से तुम बलशाली?!

Shivanshi Srivastava India, Random 4 Comments

नवरात्रि की संध्या-वंदना चल रही थी। दुर्गा माँ की आरती शुरू हुई, पर ‘सौ-सौ सिंहों से तुम बलशाली‘ पर आते-आते मेरा मन पूजाघर से कहीं दूर जा चुका था। सौ-सौ सिंहों से तुम बलशाली?! उसी विचारावेग को शब्दों का रूप देने का एक प्रयास है यह पोस्ट। एक तरफ हम गाते हैं “सौ-सौ सिंहों से तुम बलशाली”, दूसरी ओर खुद …

SHARE ON